हरियाणा में कांग्रेस का सीएम बनता है तो नाम ‘B’ से ही होता है


क्या यह महज एक संयोग है कि हरियाणा में कांग्रेस का मुख्यमंत्री हमेशा अंग्रेजी वर्णमाला के ‘बी’ अक्षर से शुरू होने वाले नाम का व्यक्ति ही बनता है? हरियाणा में कांग्रेस के अब तक पांच मुख्यमंत्री हुए हैं। राज्य के गठन के बाद 1966 में बनने वाले प्रदेश के प्रथम मुख्यमंत्री भगवत दयाल शर्मा के नाम का पहला अक्षर अंग्रेजी वर्णमाला के ‘बी’ (BHAGWATDAYAL) से शुरू होता था। इसके बाद 1968 में मुख्यमंत्री बनने वाले बंशीलाल के नाम का पहला अक्षर भी ‘बी’ (BANSIi LAL) से ही शुरू होता था।

 

बंशीलाल 1968 से 1975 तक हरियाणा के मुख्यमंत्री रहे और इसके बाद उन्हें केंद्र में रक्षा मंत्री बना दिया गया। उनकी जगह 1975 से 1977 तक राज्य के मुख्यमंत्री रहे बाबू बनारसी दास गुप्ता (BANARSI DAS GUPTA) का नाम भी अंग्रेजी वर्णमाला के ‘बी’ अक्षर से शुरू होता था। इसके बाद 1977 से 1980 तक जनता पार्टी की सरकार सत्ता में रही और 1980 में जनता पार्टी की सरकार को तोड़कर मुख्यमंत्री बनने वाले भजनलाल अपनी पूरी सरकार को लेकर कांग्रेस में शामिल हो गए थे। इस तरह दलबदल से बनी कांग्रेस की इस सरकार के मुख्यमंत्री भजनलाल (BHAJAN LAL) का नाम भी अंग्रेजी वर्णमाला के अक्षर ‘बी’ से ही शुरू होता था। भजनलाल 1980 से 1985 तक मुख्यमंत्री रहे।

 

इसके बाद केंद्रीय रेल मंत्री चौधरी बंशीलाल को फिर से हरियाणा का मुख्यमंत्री बनने का मौका मिला। साल 1987 तक मुख्यमंत्री रहे बंशीलाल का नाम ‘बी’ से शुरू होता है, यह पहले ही बताया जा चुका है, इसके बाद 1987 से 1991 तक हरियाणा में लोकदल की सरकार रही और चार साल में चार मुख्यमंत्री देखने को मिले। सन 1991 में सत्ता परिवर्तन होने पर फिर से ‘बी’ से शुरु होने वाले नाम के भजनलाल कांग्रेस सरकार के मुख्यमंत्री बने। भजनलाल 1996 तक मुख्यमंत्री रहे। इसके बाद राज्य में लंबे समय तक कांग्रेस सत्ता से बाहर रही और क्रमश: हरियाणा विकास पार्टी और भाजपा के अलावा इनेलो की सरकारें सत्ता में रहीं। जब 2004 में कांग्रेस फिर से सत्ता में आई तो संयोग से फिर से अंग्रेजी वर्णमाला के ‘बी’ अक्षर का कमाल देखने को मिला और भूपेंद्र सिंह हुड्डा (BHUPINDER SINGH HOODA) को मुख्यमंत्री पद मिल गया।

 

भूपेंद्र सिंह हुड्डा लगातार दो टर्म मुख्यमंत्री रहे यानि पूरे दस वर्ष। लगातार दस वर्ष मुख्यमंत्री रहने वाले हुड्डा हरियाणा के अकेले नेता हैं। अब देखने वाली बात यह है कि भविष्य में भी कांग्रेस में ‘बी’ अक्षर से शुरू होने वाले नाम का नेता ही मुख्यमंत्री बनेगा या अगली बार यह परंपरा टूट जाएगी। फिलहाल भूपेंद्र सिंह हुड्डा के अलावा कांग्रेस में तो कोई ऐसा नेता दूर-दूर तक नजर नहीं आता जो मुख्यमंत्री पद की दौड़ में शामिल हो और जिसका नाम ‘बी’ अक्षर से शुरू होता हो।


यह लेख पत्रकार सर्वदमन सांगवान के फेसबुक वॉल से लिया गया है। सर्वदमन हरियाणा की राजनीति पर लिखते रहते हैं और अच्छी समझ भी रखते हैं। सर्वदमन से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *