अरुण जेटली और रजत शर्मा

जब अरुण जेटली ने 4 रुपये में रजत शर्मा पर कर्ज लाद दिया


बीजेपी ने आज फिर से एक बड़े नेता को खो दिया। बीजेपी के लिए पहले सुषमा स्वराज का जाना फिर अरुण जेटली का लम्बी बीमारी के बाद ऐसे चला जाना दुखद है। जब भी अरुण जेटली की बात होती है तो हमेशा उनसे जुड़ा एक किस्सा हमेशा याद आता है। किस्सा ‘इंडिया टीवी’ वाले पत्रकार रजत शर्मा और अरुण जेटली की दोस्ती का है।

रजत शर्मा आज बुलंदियों पर हैं। ‘आप की अदालत’ नाम से उनके शो में कई प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री शिरकत कर चुके हैं। सत्ता के गलियारों में उनकी अच्छी-खासी पकड़ मानी जाती है। हालांकि, रजत शर्मा की आर्थिक स्थिति बचपन से ही नहीं ठीक थी। सात भाई-बहनों के बीच पले-बढ़े रजत शर्मा पढ़ने में होनहार थे।

लोकल डिब्बा को फेसबुक पर लाइक करें।

पांच रुपयों ने रजत शर्मा को दे दिया जेटली जैसा दोस्त

पढ़ने में अच्छे होने की वजह से इंटर के बाद उनका नाम दिल्ली यूनिवर्सिटी श्रीराम कॉलेज में दाखिला वाली मेरिट लिस्ट में आ गया था लेकिन उनके पास फीस के पूरे पैसे नहीं थे। फीस भरने में देरी के कारण अकाउंटेंट उन्हें बुरी तरह डांट चुका था। खैर, जब वह पूरे पैसे लेकर गए तो वह चिल्लर में थे। कॉलेज फीस के लिए चिल्लर देखकर अकाउंटेंट ने उनको घूरा। जब अकाउंटेंट ने पैसे गिने तो उसमें भी चार रुपये कम निकले। अकाउंटेंट इस बार जोर से चिल्लाया।

उन्हीं दिनों अरुण जेटली कॉलेज की स्टूडेंट्स यूनियन के अध्यक्ष थे। वहां किसी काम से गुजर रहे थे, तभी उनकी नजर पड़ी कि आखिर क्यों यह इतनी बुरी तरह डांटे जा रहा है। अरुण जेटली वहां आए और अकाउंटेंट को जोर से डांटा। अरुण जेटली का कहना था, ‘फ्रेशर से ऐसे कैसे बात कर सकते हो? यही तरीका है आपका? अपनी जेब से 5 रुपये निकालते हुए अरुण जेटली ने दिए तो अकाउंटेंट को लेकर यह कर्ज बन गया रजत शर्मा पर।

जब पत्रकारिता के आड़े आई दोस्ती

इसके बाद जेटली ने रजत शर्मा के कंधे पर हाथ रखकर कहा- तुम्हारे पास चाय के पैसे नहीं बचे होंगे, चलो तुम्हें मैं चाय पिलाता हूं। यहीं से दोस्ती का सिलसिला शुरू हुआ था, जो आज तक चलता रहा था। फिर इतने ऊंचे पदों पर पहुंचने के बाद देश की जिम्मेदारियों को निभाने के बीच वित्त मंत्री के रूप में जब जेटली ‘आप की अदालत’ में आए तो बेहद तीखे सवालों का सामना करना पड़ा। शो की शूटिंग के बाद जब रजत शर्मा से सभी ने बोला- आप अपने ही दोस्त के साथ ऐसे सवाल पूछ रहे थे?

अगली सुबह रजत शर्मा अरुण जेटली के घर गए। रजत शर्मा ने जेटली से कहा आपसे कुछ बहुत कड़वे सवाल पूछे थे, अगर आप चाहो तो उनके सीन हटा दें हम, वे नहीं दिखाए जाएंगे। तब हंसते हुए जेटली बोले ने कहा रजत वह तुम्हारा पेशा है और मुझे नहीं लगता कि तुमने कोई कठिन सवाल मुझसे किया। मुझे तो लगता है कि दोस्त होने के नाते तुमने सवाल आसान ही पूछे। अगली बार से पूरी बेबाकी से सवाल पूछना, काम के बीच में दोस्ती नहीं आनी चाहिए।

फोटो और विडियो क्रेडिट इंडिया टीवी न्यूज


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *